मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेहद खास और सूबे के पावरफुल मंत्री के बेटे पर एक महिला पत्रकार ने लगाया रेप का आरोप केस दर्ज

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेहद खास और सूबे के पावरफुल मंत्री महेश जोशी के बेटे पर एक महिला पत्रकार ने रेप का आरोप लगाया है. पुलिस को दी शिकायत में बताया गया है कि मंत्री पुत्र ने तीन पहले एक होटल में शादी का झांसा देकर रेप किया.
Gehlot government minister’s son accused of rape by female journalistcase registered in Delhi

राजस्थान सरकार के मंत्री महेश जोशी के बेटे रोहित के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज हुआ है. पीड़िता की शिकायत पर आरोपी मंत्री पुत्र के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने सदर बाजार थाने में जीरो एफआईआर दर्ज की है. दिल्ली पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि युवती ने मंत्री के बेटे पर शादी का झांसा देकर करीब 3 महीने पहले दिल्ली के एक होटल में रेप करने का आरोप लगाया है.  फिलहाल, पुलिस ने केस को जयपुर ट्रांसफर कर दिया है. मंत्री के बेटे के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 376, 328,312,377,366,506,509 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है.  जयपुर पुलिस मामले की जांच कर रही है. युवती ने कहा कि पिछले साल फेसबुक के जरिये उसकी मित्रता रोहित से हुई थी और तब से दोनों संपर्क में थे. शिकायत के मुताबिक, पहली बार दोनों जयपुर में मिले और रोहित ने आठ जनवरी 2021 को उसे कथित तौर पर सवाई माधोपुर बुलाया.

प्राथमिकी के मुताबिक, युवती का आरोप है कि पहली मुलाकात के दौरान रोहित ने उसके पेय पदार्थ में कुछ मिला दिया और उसका फायदा उठाया. प्राथमिकी के मुताबिक, युवती का आरोप है कि अगले दिन सुबह उठने पर आरोपी ने उसकी नग्न तस्वीरें और वीडियो दिखाकर उसे धमकाया. युवती का आरोप है कि रोहित ने एक बार दिल्ली में भी उससे मुलाकात की और उसके साथ जबरदस्ती की.

मंत्री पुत्र ने पेश किया हलफनामा

इसी बीच पुलिस को यह भी पता चला कि रोहित ने एक हलफनामा दिया था, जिसमें पीड़िता ने कहा कि दोनों बालिग हैं और अपनी मर्जी से शारीरिक संबंध बनाया है. सूत्र ने कहा कि यह अपने बचाव में किया गया होगा, क्योंकि रोहित जानता था कि एक दिन लड़की पुलिस के पास जाएगी. पीड़िता के हलफनामे में कहा गया है कि, “मैं रोहित को जानती हूं और हम दोनों एक-दूसरे से प्यार करते हैं. हमारे बीच शारीरिक संबंध हैं. मुझे पता है कि वह शादीशुदा है, उसकी एक बेटी है और उसका तलाक हो रहा है. भविष्य में अगर हम किसी भी मुद्दे पर लड़ेंगे तो हम एक-दूसरे के खिलाफ कानूनी कार्रवाई नहीं करेंगे.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *