देश की 15वीं राष्ट्रपति चुनी गईं द्रौपदी मुर्मू – 64 फीसदी वोट के साथ द्रौपदी मुर्मू की शानदार जीत, यशवंत सिन्हा को तीन राज्यों में नहीं मिला किसी का साथ

Droupadi Murmu wins Presidential Election: ओडिशा के मयूरभंज की रहने वाली द्रौपदी मुर्मू देश की 15वीं राष्ट्रपति चुन ली गईं हैं.

द्रौपदी मुर्मू देश की 15वीं राष्ट्रपति होंगी। राष्ट्रपति चुनाव के निर्वाचन अधिकारी और राज्यसभा महासचिव पी. सी. मोदी ने कल शाम मतगणना पूरी होने के बाद श्रीमती मुर्मू के नाम की घोषणा की। राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू को 64 प्रतिशत और विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को 36 प्रतिशत वोट मिले।

प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति एन. वी. रमना सोमवार को संसद के केन्द्रीय कक्ष में उन्हें राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाएंगे। श्रीमती द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति पद पर आसीन होने वाली पहली जनजातीय महिला हैं।

64 वर्षीय द्रौपदी मुर्मू देश की सबसे कम उम्र की राष्ट्रपति होंगी। वह भारत की पहली राष्ट्रपति होंगी जिनका जन्म स्वतंत्रता के बाद हुआ है। 1997 में श्रीमती मूर्मु पहली बार राजनीति में शामिल हुईं और ओडिशा के मयुरभंज जिले के रायरंगपुर अधिसूचित क्षेत्र परिषद में पार्षद चुनी गईं। उन्होंने 2002 से 2009 तक रायरंगपुर विधासभा क्षेत्र से दो बार विधायक और एक बार ओडिशा सरकार में वाणिज्य, परिवहन, मत्स्य पालन और पशु संसाधन विकास मंत्री के रूप में कार्य किया। 18 मई, 2015 को श्रीमती मुर्मू ने झारखंड के राज्यपाल के रूप में शपथ ली और पिछले साल 12 जुलाई तक इस पद पर रहीं। वह राज्य की पहली महिला राज्यपाल थीं और किसी भी भारतीय राज्य में राज्यपाल के रूप में सेवा करने वाली पहली महिला आदिवासी नेता थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *