तीन दिवसीय छठे जयपुर देव फैस्टिवल के अंतिम दिन रूबरू हुए गीतकार जावेद अख्तर

तीन दिवसीय छठे जयपुर देव फैस्टिवल के अंतिम दिन रूबरू हुए गीतकार जावेद अख्तर

TOP NEWS राजस्थान राज्य
  • लोग वो याद रहते हैं जो सबक दे जाते हैं – जावेद अख्तर
  • तीन दिवसीय छठे जयपुर देव फैस्टिवल के अंतिम दिन रूबरू हुए गीतकार जावेद अख्तर, पं. विश्वमोहन भट्ट साझा किए देवानंद के व्यक्तित्व पर अपने विचार
  • तीन दिवसीय इस आयोजन में देश भर से ही नहीं विदेशो में रह रहे देवानंद के हजारो दीवाने जयपुर देव फेस्टिवल के प्लेटफार्म पर जुड़े
  • धर्मेंन्द्र छाबड़ा, नीलम शर्मा और सीमा मुंजाल ने सजाई गीतों भरी शाम

जयपुर। शहर के मंचों पर पिछले पांच साल से आयोजित होता आ रहा जयपुर देव फैस्टिवल अपनी छठी पायदान पर इस बार भी ऑनलाइन आयोजित किया गया। तीन दिवसीय समारोह के तीसरे और अंतिम दिन का मुख्य आकर्षण गीतकार जावेद अख्तर, देवानंद के पुत्र सुनील आनंद और पद्मभूषण पं. विश्व मोहन भट्ट के के संदेश रहे। छाबड़ा बैंक्वेट हॉल में सीमित दर्शकों के साथ ऑनलाइन हुए समारोह को वीडियो संदेश के जरिए संबोधित करते हुए गीतकार जावेद अख्तर ने कहा कि लोक वो याद रहते हैं जो सबक दे जाते हैं। देवानंद ऐसे ही कृतित्व के धनी थे जो आने वाले पीढ़ि के लिए मेहनत, लगन और सत्यनिष्ठा के परिचायक बन गए। उनका व्यक्तित्व इस प्रकार था जिसे सारा हिन्दुस्तान जीता था और आज भी जीने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने अपनी फिल्मों में आधुनिकता का तो पूरा समावेश किया लेकिन शालीनता का पूरा ध्यान रखा।

समारोह के संयोजक रवि कामरा ने बताया कि इससे पूर्व समारोह में पद्मभूषण पं. विश्व मोहन भट्ट का भी वीडियो संदेश दिखाया गया जिसमें भट्ट ने देवानंद के साथ बिताए पलों का जिक्र किया। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी गोविंद शर्मा ने इस मौके पर देवानंद के पुत्र सुनील आनंद के भेजे संदेश को पढ़कर सुनाया। इस मोके पर द एवर ग्रीन देवानंद सोसाइटी के पदाधिकारी व् सदस्य अजय चोपड़ा , राज बंसल , अमिताभ जैन, सत्यजीत तालुकदार व् संजय कौशिक  दीपक गोस्वामी सहित कई बुद्धि जीवी उपस्थित थे।

सजी गीतों भरी शाम

इस मौके देवानंद और हेमंत कुमार सुपरहिट गीतों की शाम भी आयोजित की गई। इसमें धर्मेंद्र छाबड़ा, नीलम शर्मा और सीमा मुंजाल ने दोनों शख्सियतों के कुछ सुपर हिट गीतों को अपनी आवाज दी।

वरिष्ठ कला समीक्षक और संस्कृतिकर्मी सर्वेश भट्ट को दिया गया पहला देवानंद सांस्कृतिक लेखन अवार्ड

समारोह संयोजक रवि कामरा ने बताया कि समारोह के संयोजक रवि कामरा ने बताया कि इस साल से प्रदेश में सांस्कृतिक और साहित्यक लेखन में उल्लेखनीय योगदान देने वाले व्यक्ति को देवानंद की स्मृति में ‘देवानंद सांस्कृतिक लेखन अवार्ड’ दिए जाने का निर्णय किया गया है। इस बार का देवानंद सांस्कृतिक लेखन अवार्ड प्रदेश के वरिष्ठ कला समीक्षक और संस्कृतिकर्मी सर्वेश भट्ट को दिया गया। कामरा ने बताया कि तीन दिवसीय इस आयोजन में देश भर से ही नहीं विदेशो में रह रहे देवानंद के हजारो दीवाने जयपुर देव फेस्टिवल के प्लेटफार्म पर जुड़े। यहाँ जयपुर के लिए अपने आप में एक अनूठा आयोजन था।

2019 में कोरोना से पहले यह समारोह जवाहर कला केंद्र में पूरे दिन आयोजित किया गया था। इसमें फिल्म अभिनेत्री जीनत अमान ने भी शिरकत थी, इस दौरान जीनत को पहले देवानंद अवार्ड से नवाजा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *