अब राजस्थान में भी 18 वर्ष से अधिक आयु वालों को फ्री में वैक्सीन

अब राजस्थान में भी 18 वर्ष से अधिक आयु वालों को फ्री में वैक्सीन

COVID 19 Update TOP NEWS राजस्थान
  • WEAR MASK STAY SAFE
  • मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर दी स्वयं जानकारी, कहा-3000 करोड़ का अतिरिक्त वित्तीय भार पड़ेगा
  • गहलोत बोले, केंद्र को खर्च करना चाहिए था यह वित्तीय भार भी

जयपुर। राजस्थान सरकार ने प्रदेश के 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के सभी लोगों को निशुल्क कोविड वैक्सीन लगाने का फैसला किया है। 18 से 45 वर्ष तक उम्र वालो के टीकाकरण पर लगभग 3000 करोड़ रुपये की धनराशि खर्च होगी। नि:शुल्क कोविड वैक्सीन लगाने के फैसला की जानकारी स्वयं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर दी, गहलोत ने हालांकि ट्वीट में कहा है कि यह बेहतर होता कि राज्य सरकारों की मांग के अनुसार भारत सरकार 60 वर्ष एवं 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग की तरह ही 18 वर्ष से 45 वर्ष तक की आयु के युवाओं के वैक्सीनेशन का खर्च भी उठा लेती तो राज्यों का बजट डिस्टर्ब नहीं होता। 18 से 45 वर्ष तक की आयु तक के लोगों को नि:शुल्क वैक्सीनेशन लेकर केंद्र व राज्य सरकार में झगड़ा बना हुआ था।

इस बीच 18 से 45 वर्ष तक की आयु वाले लोगों का 1 मई से टीकाकरण होना है और उसके लिए 28 अप्रेल से रजिस्टे्रशन की बात कही गई थी, लेकिन राज्य सरकार की ओर से नि:शुल्क वैक्सीनेशन के देरी से किए गए फैसले के चलते राज्य में 18 से 45 वालों का वैक्सीनेशन वाला तीसरा चरण देरी से शुरू होने की संभावना है। क्योंकि अभी तक राज्य सरकार की ओर से वैक्सीन की खरीद अपने स्तर पर नहीं की गई है। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि देश के 11 राज्य नि:शुल्क वैक्सीनेशन का फैसला पहले ही अपने स्तर पर ले चुके थे और राजस्थान में भी उम्मीद की जा रही थी कि केंद्र या राज्य स्तर पर नि:शुल्क कोविड वैक्सीनेशन का फैसला होगा।

गहलोत ने कहा कि राजस्थान में निशुल्क दवा एवं जांच योजना के साथ तथा चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा जैसी निशुल्क इलाज की योजनाएं चलाई जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा की एक ही वैक्सीन की राज्य और केन्द्र से भिन्न-भिन्न कीमत लिया जाना न्यायोचित नहीं है। इसके लिए केन्द्र सरकार को निजी वैक्सीन कंपनियों से बात कर वैक्सीन की कीमत कम करवानी चाहिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *