आज भारत के संकल्प अपने हैं, लक्ष्य अपने हैं, पथ अपने हैं और प्रतीक अपने हैं। आज राजपथ का अस्तित्व समाप्त होकर कर्तव्य पथ बना – Narendra Modi

India’s resolutions are ours, the goals are ours. Today, the paths are ours and all our symbols are ours. The Rajpath ceased to exist with the birth of the Kartavya Path. Today, if Netaji’s statue has replaced the statue of George V’s statue, then it is not the first example of the rejection of the slavery mentality. This is neither the beginning nor the end. This is a continuous journey of determination until the goal of freedom of mind is achieved: PM

————–
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार शाम 8 बजे इंडिया गेट के सामने कर्तव्य पथ का उद्घाटन किया। वे शाम 7 बजे कर्तव्य पथ पहुंचे। सबसे पहले उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा का अनावरण किया। 19 महीने तक लगातार चले काम के बाद सेंट्रल विस्टा एवेन्यू बनकर तैयार हुआ है।

PM मोदी ने कहा- आजादी के अमृत महोत्सव में, देश को आज एक नई प्रेरणा मिली है, नई ऊर्जा मिली है। आज हम गुजरे हुए कल को छोड़कर, आने वाले कल की तस्वीर में नए रंग भर रहे हैं। आज जो हर तरफ ये नई आभा दिख रही है, वो नए भारत के आत्मविश्वास की आभा है।

यह ना तो शुरुात है और ना ही अंत हैः पीएम मोदी

जिन द्वीपों के नाम अंग्रेजी शासकों के नाम पर थे हमने उनके नाम बदलकर भारत की पहचान दी। हमने पंच प्राणों का विजन रखा है। इन पंच प्राणों में कर्तव्यों की प्रेरणा है। इसमें गुलामी की मानसिकता की त्याग का आह्वान है। अपनी विरासत पर गर्व की अनुभूति है। आज भारत के संकल्प अपने हैं, लक्ष्य अपने हैं। आज हमारे पथ अपने हैं और प्रतीक अपने हैं। आज अगर राजपथ का अस्तित्व समाप्त होकर कर्तव्य पथ बना है। आज अगर जॉर्ज पंचम के निशान को हटाकर नेताजी की मूर्ति लगी है तो यह गुलामी की मानसिकता की त्याग का पहला उदाहरण नहीं है। यह ना तो शुरुात है और ना ही अंत हैः पीएम मोदी

आजादी के बाद महानायक को भुला दिया गया थाः पीएम मोदी

आजादी के साथ ही हमारे महानायक को भुला दिया गया। उनके प्रतीकों को नजरअंदाज कर दिया गया। सुभाष बाबू की जन्मजयंती पर उनके घर जाने का मौका मिला। मैंने उनकी अनंत ऊर्जा को महसूस किया। आज देश का प्रयास है कि नेताजी की वह ऊर्जा देश का पथ प्रदर्शन करे। कर्तव्य़ पथ पर नेताजी की प्रतिमा इसका माध्यम बनेगी। देश की नीतियों में सुभाष बाबू की छाप रहे, यह प्रतिमा इसके लिए प्रेरणास्रोत बनेगी।

पीएम मोदी ने किया कर्तव्य पथ का उद्घाटन

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन को लेकर एक ऑडियो विजुअल प्ले किया गया। इसमें उनके आजादी में योगदान पर प्रकाश डाला गया। प्रधानमंत्री मोदी ने कर्तव्य पथ का उद्घाटन कर दिया है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *